Home » World » चलती ट्रेन में हुआ प्यार, ट्रेन में ही कर ली शादी

टुंडला । चंद घंटों के सफर में अनजान युवक और युवती एक दूसरे के जीवनसाथ बन गए। जी हां, दोनों ट्रेन में चढ़े तो अजनबी बन कर थे, उनकी मंजिल भी अलग थी लेकिन जब ट्रेन से उतरे तो वह एक दूसरे के जीवनसाथी बन चुके थे। जो सफर चंद घंटों का था वह जीवन भर का बन गया। साथी यात्री ने पंडितजी की भूमिका निभाई तो वहीं अन्य ने उनके सुखी वैवाहिक जीवन की कामना की।
दिल्ली से दोपहर को चलने वाली पूर्वा एक्सप्रेस के कोच में एक युवती और युवक सफर तय करने के लिए चढ़े थे। दोनों अजनबी थे और उनकी मंजिल भी अलग-अलग थी। दिल्ली से अलीगढ़ आते-आते दोनों के बीच की दूरी सिमट चुकी थी। पहले दोस्ती हुई और फिर प्यार। सफर में ही दोनों ने जीवन भर का साथ निभाने की भी ठान ली।
ट्रेन में ही शादी का मन बनाया तो रीति रिवाज आडे आ गए। दोनों यादगार लम्हों को खोना नहीं चाहते थे। बस फिर क्या था साथी यात्रियों को अपने दिल की बात बता दी। यात्री भी दोनों के ट्रेन में ही सात फेरे दिलाने को तैयार हो गए।
कोच में ही एक पंडितजी भी मिल गए। उन्होंने उस कमी को पूरा कर दिया। अलीगढ़ से आते आते पंडितजी ने वेदमंत्रों के उच्चारण के साथ युवती की मांग भरवा दी। टूंडला आते-आते दोनों एक दूसरे के हो चुके थे। यात्रियों ने उनके वैवाहिक जीवन की कामना करते हुए आशीर्वाद दिया।

Related Posts with Thumbnails

No comments yet... Be the first to leave a reply!